Collection of Gulzar Shayari in Hindi

Gulzar Shayari in Hindi

Gulzar Sahab's Shayari is very famous in India and has a huge fan base. Many people use the Shayari of Gulzar sir as their Instagram Caption, Whatsapp Status, and Facebook Status.

Shayari of Gulzar sir was highly requested by many people because their words have deep meaning and obviously everybody loves his Shayari so we decided to bring this collection to you guys.

As most of you guys know that our website provides you the collections of status quotes, captions and Shayariso we decided to publish some of the top Shayaris of Gulzar sir.

We have included only Gulzar's Shayari in Hindi in this collection. These are the categories of Shayari present in this Collection.

  • Gulzar shayari on Love

  • Gulzar Shayari on Life

  • Gulzar Sad Shayari in Hindi

Gulzar shayari on love

  • किसी को पा लेना ही तो इश्क़ नहीं, किसी को दिल ही दिल चाहना भी तो प्यार है 
  • कौन कहता है कि सँवरने से बढ़ती है ख़ूबसूरती, दिलों में चाहत को तो चेहरे यूं ही निखर आते है
  • तुम गुज़र जाओ नज़दीक से, ये भी किसी मोहब्बत से कम नहीं 
  • थामा है हाथ तो भरोसा रखो, ना तो डूबेंगे, ना डूबने देंगे 
  • रात भर भटका है मन मोहब्ब्बत के पते पर, चाँद कब सूरज में बदल गया पता ही नहीं चला 
  • डरता हूँ कहने से की पसंद हो तुम, क्यूंकि ज़िन्दगी बदल देगा तुम्हारा इकरार भी इंकार भी 
  • ख्यालों में मिला करते हो तुम, सच्चाई से हमें भी लगाव नहीं 
    Gulzar Shayari in Hindi
  • रात अपनी है, ख्याल उसका है 
  • नहीं  भुलाया जाता वो शख्स जो एक बार दिल में बस जाये , मोहब्बत की थी कोई टाइमपास नहीं 
  • क्यों करते हो हमसे इतनी खामोश मोहब्बत, लोग समझते हैं इस बदनसीब का कोई नहीं 
  • तू मिले या ना मिले ये मुकद्दर की बात है, मगर सुकून मिलता है तुझे अपना सोचकर 
  • तुमसे कितनी मोहब्बत है मालूम नहीं, मगर लोग आज भी  तुम्हारी कसम देकर मना लेते हैं 
  • हुसन के कसीदे तो गढ़ती रहेंगी महफिलें, झुर्रियां भी प्यारी लगें तो समझ लेना इश्क़ है 
  • क्यों ना गरूर करूं मैं अपने आप पे, मुझे उसने चाहा जिसके चाहने वाले हज़ारों थे
    Gulzar Shayari in Hindi
  • मत कर हिसाब मेरे प्यार का, कहीं ऐसा ना को कि बाद में तू कर्ज़दार निकले 
  • मुझे आदत नहीं यूं हर किसी पर मर मिटने की, पर तुझे देखकर दिल ने सोचने की मोहलत नहीं दी 
  • तू हज़ार बार रूठे तो मना लूंगा तुझे, मगर देख मोहब्बत में शामिल कोई दूसरा ना हो 
  • उस पागल को कैसे समझाऊं की बात ना करने से मोहब्बत कम नहीं होती बल्कि तड़प और बढ़ती है
  • जरूरी तो नहीं हर पल तेरे पास रहूं, मोहब्बत और इबादत दूर से भी तो की जा सकती है 
  • चाहने वाले मिलते रहेंगे सारी उम्र तुझे, बस तू जिसे भूल न पाए , वो चाहत यकीनन हमारी होगी 
  • रंग देखते हैं लोग मेरे चेहरे का , चुपके से तेरा नाम पुकारकर 
  • वैसे तो कोई बुरी आदत नहीं हमे, बस आपको याद करने की लत लग गयी है 
  • अगरबत्ती की तरह खुशबू ही देंगे तुम्हें, शौंक से चाहे जितना भी जला लेना हमे
    Gulzar Shayari in Hindi

Gulzar shayari on life
  • दोस्ती करने वालों की कमी नहीं है दुनिया में, अकाल तो निभाने वालों का पड़ा है साहब 
  • महंगी हैं अगर किताबें, तो चेहरे पढ़ा करो 
  • कभी कभी सही लोग गलत वक़्त पर मिल जाते हैं और कभी कभी सही वक़्त पर गलत लोग 
  • मुझे उस जगह जाना है, जहां से कोई वापस नहीं आता 
  • जो ज़िन्दगी है, ज़िन्दगी में नहीं है 
    Gulzar Shayari in Hindi
  • ज़िन्दगी उलझती रही हमसे हर कदम पर, हम भी चलते रहे ढीठ बनकर 
  • ज़िन्दगी की राहों में दुनिया मुस्कुराते रहो, उदास दिलों को हमदर्द तो मिलते है मगर हमसफर नहीं 
  • कभी झांककर देखो उसके दिल में, कितना रोता है अंदर से सबको हसाने वाला 
  • जिसे लोग आज बेवक़ूफ़ बनना कहते हैं, कभी उसे इश्क़ कहा जाता था 
  • यूं ही नहीं होती जनाज़ों में भीड़ जनाब,. हर शख्स अच्छा होता है बस चले जाने के बाद 
  • थम के रह जाती है ज़िन्दगी, जब जम के बरसती हैं पुरानी यादें 
    Gulzar Shayari in Hindi
  • बेकार जाया किया वक़्त किताबों में सारा सबक तो कम्बख्त ठोकरों से ही सीखे हैं 
  • दिल अब पहले सा मासूम नहीं रहा, पत्थर तो नही बना हाँ पर अब मोम भी नही रहा 
  • सही सब होते हैं आज कल , इसलिए खुद को गलत समझता हूँ 
  • वो बचपन ही अच्छा था जनाब, खिलौने टूटदे थे , दिल नहीं 
  • इत्मिनान से गुजर रही है ज़िन्दगी, बस गलती से इश्क़ हो गया 
  • हम भी जी सकते थे , अगर मरते ना किसी पर 
    Gulzar Shayari in Hindi
  • बोहत दिनों से कोई नया ज़ख्म नहीं मिला, जरा पता तो करो ये अपने हैं कहाँ 
  • बुरा नहीं हूँ मैं, बस कुछ लोगों को अच्छा नहीं लगता 
  • क्या बेचके खरीदें हम सुकून ऐ ज़िन्दगी, सब कुछ तो गिरवी पड़ा है ज़िम्मेदारी के बाजार में 

Gulzar sad shayari in hindi
  • वो आएगी नहीं मगर मैं फिर भी इंतज़ार करता हूँ, एक तरफ़ा ही सही मगर मैं प्यार सच्चा करता हूँ 
  • लोग कांटो से बचकर निकलते हैं, हमने फूलों से ज़ख्म खाये हैं जनाब 
  • टूटे हुए दिल को फिर जोड़ा तुमने, पहले भी कहीं के ना थे फिर कहीं का ना छोड़ा तुमने 
  • कुछ तो है तुझसे मेरा रिश्ता वरना कोई गैर इतना भी याद नहीं आता 
  • कसूर उनका भी नहीं हमारा है दोस्त, हमने चाहत ही इतनी की थी कि उनको गुरूर हो गया 
    Gulzar Shayari in Hindi
  • खुश तो वो रहते हैं जो जिस्मों से प्यार करते हैं, रूह से मोहब्बत करने वालों को अक्सर तड़पते ही देखा है 
  • मैं क्यों पुकारूँ उसे कि लौट आओ, क्या उसे नहीं मालूम कि मेरे पास उसके सिवाय कुछ नहीं 
  • हमारा हक़्क़ तो नहीं फिर भी तुमसे कहते है, हमारी ज़िन्दगी लेलो मगर उदास मत रहा करो 
  • मालूम है मुझे कि ये मुमकिन नहीं मगर एक आस सी रहती है कि तुम याद करोगे 
  • किस हक़्क़ से माँगू अपने हिस्से का वक़्त आपसे क्यूंकि ना आप मेरे हो और ना ही वक़्त मेरा 
  • ज़िक्र तेरा हुआ तो हम महफ़िल छोड़ आये, हमें गैरों के लबों पर तेरा नाम अच्छा नहीं लगता 
    Gulzar Shayari in Hindi
  • सब अपने प्यार की तारीफ कर रहे थे , हमने भी नींद है बहाना बनाकर महफ़िल छोड़ दी 
  • सिर्फ बेहद चाहने से क्या होता है, नसीब भी चाहिए किसी का  प्यार पाने के लिए 
  • उसकी चाहत में हम कुछ यूं बंधे हैं कि वो साथ भी नहीं और हम अकेले भी नहीं 
  • कितना भी मशरूफ करलो तुम खुद को , मेरे नाम का एक लम्हा तुम्हारे वक़्त को जरूर चुराता होगा 
  •  हमने भी एक ऐसे इंसान को चाहा जिसे भूलना बस में नहीं और पाना  किस्मत में नहीं 
  • तू साथ नहीं पर हमेशा रहेगी, एक वजह है तुझे बेवजह चाहने की 
    Gulzar Shayari in Hindi
  • हज़ारों फेरे लगाए थे हमने उसके मोहल्ले के, कोई किस्मत वाला सात फेरों में ही उसे ले गया 
  • आज खुदा ने मुझसे कहा उसे भुला क्यों नहीं देते, मैंने कहा इतनी फ़िक्र है तो मिला क्यों नहीं देते 
  • खामोशियाँ बेवजह नहीं होती, कुछ दर्द आवाज़ छीन लिया करते हैं 


So friends this was our collection of Gulzar's Shayari and we hope you have shared them on your social media sites with your friends who are Gulzar sir's or Hindi shayari fans.

 Also, let us know if you want more posts like this collection of Hindi Shayari. Don't forget to tell us about your favorite Hindi Shayari and poet's name in the comments section.

Post a Comment

0 Comments